Hindi

Showing 100 of 686 Results

निम्नलिखित समस्तपदों का विग्रह करके समास का नाम लिखिए- (क) हथकड़ी (ख) रोगग्रस्त (ग) शताब्दी (घ) त्रिवेणी (ङ) कमलनयन (च) लाभ-हानि (छ) नवग्रह (ज) तुलसीकृत (झ) राजीवलोचन (ञ) बैलगाड़ी (ट) यथासंभव (ठ) घुड़सवार (ड) लंबोदर

निम्नलिखित के समस्त पद बनाकर समास का नाम लिखिए: (1) मरण तक (2)नीला है जो कमल (3) देवता का आलय (4) एक है दांत जिसका (5) विष को धारण करने वाला (6) रेल पर चलने वाली गाड़ी (7) चार भुजाओं का समूह (8) महान है जो काव्य (9) घोड़ों की दौड़ (10) गंगा का तट

सुनि सुनि ऊधव की अकह कहानी कान कोऊ थहरानी कोऊ थानहि थिरानी हैं। कहैं ‘रतनाकर’ रिसानी, बररानी कोऊ कोऊ बिलखानी, बिकलानी, बिथकानी हैं। कोऊ सेद-सानी, कोऊ भरि दृग-पानी रहीं कोऊ घूमि-घूमि परीं भूमि मुरझानी हैं। कोऊ स्याम-स्याम कह बहकि बिललानी कोऊ कोमल करेजौ थामि सहमि सुखानी हैं। संदर्भ सहित व्याख्या कीजिए।

रचना के आधार पर दिए वाक्यों के भेद लिखिए। 1. एक जमाना था कि लोग आठवां दर्जा पास करके नायब तहसीलदार हो जाते थे। 2. खिड़की के बाहर अब दोनों कबूतर रात भर खामोश हो उदास बैठे रहते थे। 3. चाय पीने की यह एक विधि है जिसे चा-नो-यू कहते हैं। 4. जिस रास्ते से मनुष्य जाते थे उसी रास्ते में उत्साह और नवीनता मालूम होती थी। 5. जो जितना बड़ा होता है उसे उतना ही कम गुस्सा आता है। 6. सालाना इम्तिहान में मैं पास हो गया और दर्जे में प्रथम आया। 7. पढ़ाई और खेलकूद साथ-साथ चल सकते हैं। 8. हरिहर काका के प्रति मेरी आसक्ति के अनेक व्यावहारिक और वैचारिक कारण हैं। 9. संसार की रचना कैसे भी हुई हो लेकिन धरती किसी एक की नहीं है। 10. मेरे जीवन में यह पहली बार है कि मैं इस तरह विचलित हुआ हूँ। 11. वह सफल खिलाड़ी है इसलिए उसका कोई निशाना खाली नहीं जाता। 12. उसका कोई निशाना खाली नहीं जाता क्योंकि वह एक सफल खिलाड़ी है। 13. ज्योंहि सभा समाप्त हुई त्योंहि सब लोग विवाद करने लगे। 14. क्योंकि वह इंस्पेक्टर ईमानदार है इसलिए उसे पुरस्कार मिला। 15. धर्मतल्ले के मोड़ पर आकर जुलूस टूट गया।