भ्रमण का महत्व बताते हुए एक अनुच्छेद लिखिए।

अनुच्छेद

भ्रमण का महत्व

 

भ्रमण का जीवन में बहुत महत्व होता है। भ्रमण से हमें ना केवल अलग-अलग जानकारी मिलती है बल्कि अलग-अलग क्षेत्रों के इतिहास और संस्कृति को जानने का अवसर मिलता है। भ्रमण केवल मनोरंजन और मौज मस्ती का ही नाम नहीं बल्कि यह ज्ञानवर्द्धन करने का भी एक माध्यम है। भ्रमण करने से शारीरिक और मानसिक दोनों तरह लाभदायक है। भ्रमण करने से शरीर स्वस्थ बना रहता है, जब हम जगह-जगह घूमते है, चलते-फिरते हैं, अलग-अलग शारीरिक गतिविधियां करते हैं, तो इससे शरीर की क्रियाशीलता बढ़ती है और शरीर फिट रहता है। जब अलग-अलग जगहों पर घूमते हैं, और हमें जानकारियां मिलती है, तो हमारा ज्ञानवर्द्धन होता है, जिससे हमारी मानसिक भूख भी शांत होती है। हर किसी व्यक्ति को अपने जीवन में अलग-अलग ऐतिहासिक जगहों, अपने-अपने धर्म के अनुसार धार्मिक जगहों तथा अन्य प्रसिद्ध जगहों का भ्रमण अवश्य करना चाहिए। यह दुनिया बेहद विशाल है इसमें विभिन्न देश हैं, राज्य है, संस्कृतियां हैं, सभ्यताएं हैं, खान-पान, वेशभूषा है। हमें इन सभी को जानने का लाभ उठाने से चूकना नहीं चाहिए। भ्रमण हमें यही सुविधा प्रदान करता है। इसलिए भ्रमण का अपना ही महत्व है।


Related questions

‘शहरीकरण तथा पर्यावरण’ पर अनुच्छेद लिखिए।

‘आलस करना बुरी आदत है’ इस विषय पर अनुच्छेद लिखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *