‘ मर्म को छूना’ इस मुहावरे का अर्थ पहचानकर लिखिए। (क) हँसी उडाना (ख) हृदय को छूना (ग) दुखित होना

सही विकल्प होगा…

(ख) हृदय को छूना

मर्म को छूना इस मुहावरे का सही अर्थ इस प्रकार होगा :

मुहावरा : मर्म छूना।

अर्थ : हृदय को छूना’

मर्म से तात्पर्य मन और हृदय से होता है। जो बात बहुत अच्छी लगती हो, दिल यानि हृदय को बहुत अच्छी लगे, उसे मर्म छूना कहेंगे।

वाक्यों के प्रयोग द्वारा समझते हैं :

वाक्य प्रयोग-1 : शिवानी ने मोहन से कहा कि तुम मेरे सबसे अच्छे दोस्त हो तो यह बात मोहन के मर्म को छू गयी।

वाक्य प्रयोग-2 : अपने सारगर्भित भाषण से वक्ता ने श्रोताओं के मर्म को छू लिया।

मुहावरे क्या है?

मुहावरे वे वाक्यांश होते हैं, जिनका स्वतंत्र रूप से कोई अर्थ नहीं होता, लेकिन वह किसी वाक्य के साथ प्रयोग किये जाते हैं। मुहावरे किसी बात को वजनदार कहने के लिए प्रयोग किए जाते हैं।

मुहावरे अरबी भाषा का शब्द है, जिसको हिंदी में ‘कहावत’ भी कहा जाता है। यहाँ  पर ध्यान देने योग्य बात यह है कि मुहावरे लोकोक्ति से भिन्र होते हैं। मुहावरे जहाँ वाक्यांश होते हैं, वहीं लोकोक्तियां पूर्ण रूप से एक वाक्य हैं जिनका अपना निश्चित स्वतंत्र अर्थ होता है।


Related questions

मुहावरों का अर्थ और वाक्यों में प्रयोग कीजिए 1. आँचल में छिपा लेना 2. आँसुओं का समुद्र उमड़ना

घोड़ा-गाड़ी शब्द का तत्सम, तद्भव, देशज और विदेशज शब्द क्या होंगे?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *