आंचलिक शब्द व देशज शब्दों में अंतर स्पष्ट करे।

आंचलिक शब्द और देशज शब्द में मुख्य अंतर यह है कि आंचलिक शब्द किसी क्षेत्र विशेष से संबंधित शब्द होते हैं। यह केवल इस क्षेत्र के दायरे में ही बोले जाते हैं। आंचलिक शब्द अधिकतर उसे क्षेत्र की बोली से संबंधित होते हैं और उसे क्षेत्रीय बोली में बोले जाते हैं। उस क्षेत्र से बाहर उन शब्दों का कोई अधिक प्रचलन नहीं होता।

देशज शब्द वह शब्द होते हैं, जो देशी भाषाओं से संबंधित शब्द होते हैं। देशज शब्द उस पूरी भाषा में बोले जाते हैं चाहे वह भाषा किसी भी क्षेत्र में बोली जाती हो। ऐसे शब्दों की उत्पत्ति के विषय में कुछ विशेष पता नहीं होता, लेकिन देश में काफी समय से प्रचलन में होते हैं, इसलिए उन्हें देशज शब्दों की श्रेणी में रखा जाता है।

आंचलिक शब्द और देशज शब्द में मुख्य अंतर यही है कि आंचलिक शब्दों का दायरा एक क्षेत्र विशेष तक ही सीमित होता है, जबकि देशज शब्दों का दायरा क्षेत्र से अधिक होता है, लेकिन यह देश की सीमाओं के अंदर ही होता है।


Related questions

जीवनाधार में कौन सी संधि है?

“काव्य वो है जो हृदय में अलौकिक आनंद या चमत्कार की सृष्टि करे” ये परिभाषा किसने दी है​

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *