पूर्वी रेलवे के उप महाप्रबंधक को एक शिकायती पत्र लिखते हुए बताइए कि किस प्रकार की अव्यवस्था एवं गन्दगी आपको कोलकाता रेलवे स्टेशन पर देखने को मिली और स्टेशन मास्टर से शिकायत करने पर भी आपकी बात नही सुनी गई।

औपचारिक पत्र

रेल उप महाप्रबंधक को शिकायत पत्र

 

दिनांक : 16 मार्च 2024

 

सेवा में,
श्रीमान उप प्रबंधक,
पूर्वी रेलवे (कोलकाता)

विषय : कोलकाता रेल्वे स्टेशन पर फैली गंदगी के संबंध में शिकायत

प्रबंधक महोदय,

पिछले दिनों में अपने परिवार के साथ कोलकाता से दिल्ली जा रहा था। मेरा दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस में सेकंड एसी का टिकट था। नियत समय पर जैसे ही हम लोग कोलकाता स्टेशन पर पहुंचे, हमें वह सब देखना पड़ा जिसकी हमें उम्मीद नहीं थी। कोलकाता जैसे महानगर उसके विश्वस्तरीय स्टेशन पर गंदगी का ढेर देखकर मुझे बड़ा दुख हुआ। रेलवे स्टेशन परिसर में घुसते ही चारों तरफ कूड़ा जगह-जगह कूड़ा-करकट नजर आ रहा था और कोई भी सफाई कर्मी दिखाई नहीं दे रहा था।

पूरे स्टेशन में  इक्का-दुक्का सफाई कर्मी नजर आए भी तो वह बीड़ी पीते हुए अथवा गप्पें लड़ाते हुए नजर आए। एक जगह केले का छिलका पड़ा होने के कारण मेरा पुत्र फिसलते-फिसलते बचा। कूड़ेदान भी हर जगह नही थे, जहां पर थे, वहां पर पहले से ही भरे हुए थे, चूँकि हम अपनी ट्रेन के समय से एक घंटा पहले पहुंच गए थे, इसलिए मेरे पास समय था। इसलिये मैं स्टेशन मास्टर से शिकायत करने उनके ऑफिस गया और अपनी शिकायत दर्ज कराई। लेकिन उसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई, और किसी भी सफाई कर्मी ने सफाई करने की कोशिश नहीं की।

हमारी ट्रेन का समय होने पर हम हमारी ट्रेन में सवार हो गए, लेकिन मैंने देखा ट्रेन चलते-चलते समय भी मैंने देखा कि कोई भी सफाई कर्मी सफाई का प्रयास नहीं कर रहा था। ना ही स्टेशन मास्टर ने ऐसा कोई आदेश दिया है, ऐसा प्रतीत होता था।कृपया इस संबंध में उचित कार्रवाई करें। यह हमारे कोलकाता और उसके स्टेशन प्रतिष्ठा का सवाल है।

आशा है, यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए आप स्टेशन पर पर्याप्त सफाई करने का निर्देश देंगे, और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई में अंतर करेंगे।

आशीष गौड़,
पिरामल नगर, कोलकाता ।


Related questions

आप सुमन हैं। नई कॉलोनी, कलकत्ता से आपके नाम से प्रेषित एक हजार रुपए के मनीऑर्डर की प्राप्ति होने की शिकायत करते हेतु अधीक्षक, डाक विभाग को पत्र लिखिए।

अपने कम्प्यूटर खरीदा किंतु खरीदने के 1 महीने बाद ही उसमें खराबी आ गई। आपकी शिकायत पर दुकानदार ने कोई ध्यान नहीं दिया। कंपनी के मुख्य प्रबंधक को पत्र लिखकर घटना की जानकारी देते हुए उनसे अनुरोध कीजिए कि वह उचित कार्रवाई करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *