‘नीलकमल’ शब्द का कौन सा रूप है? (रचना के आधार पर)

रचना के आधार पर नीलकमल शब्द का रूप इस प्रकार होगा :

नीलकमल : यौगिक शब्द (रचना के आधार पर)


विस्तार से समझें, क्यों?

रचना के आधार पर ‘नीलकमल’ एक यौगिक शब्द है, क्योंकि यौगिक शब्द वह शब्द होते हैं, जो दो शब्दों को मिलाकर बनाए जाते हैं।

‘नीलकमल’ दो शब्दों ‘नील’ और ‘कमल’ को मिलाकर बनाया गया शब्द है, इसलिए रचना के आधार पर नीलकमल एक यौगिक शब्द है। रचना यानी बनावट यानी व्युत्पत्ति के आधार पर शब्द तीन प्रकार के होते हैं।

1. रूढ़ शब्द
2. यौगिक शब्द
3. योगरूढ़ शब्द

रूढ़ शब्द वे शब्द होते हैं, जो किसी दूसरे शब्द के योग से नहीं बने हैं और जिन का खंडन नहीं किया जा सके।
यौगिक शब्द वे शब्द हैं, जो दो शब्दों के योग से बनते हैं। जैसे नीलकमल, ताजमहल, राजकमल, रेलगाड़ी आदि।
योगरूढ़ शब्द वे शब्द होते हैं, जो अपने सामान्य अर्थ को न प्रकट करते हुए विशिष्ट अर्थ को प्रकट करते हैं।


Related questions

‘इस कक्षा में बीस छात्र हैं।’ ये वाक्य सकर्मक है या अकर्मक?

मजदूरों ने ईंट नहीं उठाई। वाक्य में कौन सा वाच्य है ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *