कवि ने ऐसा क्यों विश्वास किया है कि उसका अंत अभी नहीं होगा?

कवि को ऐसा विश्वास कि उसका अंत अभी नहीं होगा, इसलिए है, क्योंकि कवि का मन जोश और उमंग से भरा हुआ है। कवि के अनुसार उसकी तो अभी-अभी शुरुआत हुई है। उसे अभी जीवन में कई नवीन कार्य करने हैं। उसे युवा पीढ़ी को आलस्य से निकालना है और उनमें जोश एवं उमंग भरकर अपने कर्तव्य के पथ पर धकेलना है। उसके जीवन की तो अभी शुरुआत ही हुई है, इसीलिए कवि को ऐसा विश्वास है कि अभी उसका अंत नहीं होगा।

विशेष :

‘ध्वनि’ कविता सूर्यकांत त्रिपाठी निराला द्वारा लिखी गई है। इस कविता के माध्यम से कवि निराला युवा मन में जोश भरने का प्रयत्न कर रहे हैं। वे आशावादी दृष्टिकोण अपनाकर जीवन में आगे बढ़ने की प्रेरणा दे रहे हैं।

संदर्भ पाठ:

‘ध्वनि’ कविता – सूर्यकांत त्रिपाठी निराला, पाठ 1, कक्षा 8


Other questions

जैवविविधता के तप्त स्थलों के बारे में समझाइये।

अगर लोग कोरोना का टीका नहीं लगाएंगे तो सबको कोरोना हो जाएगा। अर्थ की दृष्टि से वाक्य के भेद बताइए।

Related Questions

Recent Questions

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here