दिल्ली से हरियाणा के बीच यात्रा के दौरान बस कंडक्टर ने दुर्व्यवहार किया। इसकी शिकायत करने हेतु दिल्ली परिवहन निगम के मुख्य प्रबंधक को पत्र लिखें।

औपचारिक पत्र

दिल्ली परिवहन निगम के मुख्य प्रबंधक को पत्र

  • दिनांक : 24.2.2024

सेवा में,
श्रीमान मुख्य प्रबन्धक,
दिल्ली परिवहन निगम, जंतर मंतर,
नई दिल्ली -110 001

विषय – कंडक्टर के द्वारा किए गए दुर्व्यवहार हेतु।

महोदय,

पूरे सम्मान के साथ, मैं आपके संज्ञान में लाना चाहता हूँ कि मैं, दिनाँक 23.2.2024 को दिल्ली परिवहन निगम की बस नंबर DL-4L-4454 द्वारा कश्मीरी गेट, न्यू दिल्ली से हरियाणा (अंबाला) जा रहा था और मैंने कंडक्टर को निगम द्वारा तय भाड़ा रुपये 113 दिये लेकिन कंडक्टर, जिसका नाम रजिन्दर सिंह था, ने कहा कि अंबाला का भाड़ा रुपये 170 है और मुझसे और पैसे की मांग करने लगा।

मैंने जब उसे दिल्ली परिवहन निगम की भाड़ा सूची इंटरनेट से निकाल कर दिखाई तो वो भड़क गया और मुझसे बदतमीजी करने लगा। उसने मुझसे कहा कि ज्यादा नियम हमें न पढ़ाएँ और भाड़ा तो वो ही देना पड़ेगा, जो मैं मांग रहा हूँ ,अन्यथा बस से उतर जाओ। बस में मौजूद बाकी सवारियों ने भी उसे समझाने की कोशिश की, लेकिन वो नहीं माना और उसने मुझसे हाथापाई करनी भी शुरू कर दी। अन्य सवारियों ने बीच-बचाव करने किया  वरना वो मुझे मार भी सकता था।

श्रीमान जी, नगर निगम की बसें लोगो की सुविधा के चलाई जाती हैं, ना कि लोगों का उत्पीड़न करने के लिए। मैं एक जिम्मेदार नागरिक हूँ और सदा सरकार द्वारा बनाए नियमों का आदर करता हूँ। लेकिन अगर जनता के साथ ऐसा दुर्व्यवहार एक सरकारी कर्मचारी करने लगेगा तो समाज में सरकारी नियमों और सरकारी संगठनों की क्या अहमियत रह जाएगी।

इस बावत आपसे आपसे निवेदन है कि आप कंडक्टर रजिन्दर सिंह के खिलाफ तुरंत जरूरी कार्यवाही करने की कृपा करें ताकि ऐसे कर्मचारी किसी और के साथ ऐसी धांधली न कर पाएँ।

धन्यवाद,

प्रार्थी,
राकेश कुमार,
A-14, अमन विहार,
दिल्ली


संबंधित..

स्वयं को सरदार शहर निवासी ‘दिनकर’ मानते हुए शैक्षिक भ्रमण का वर्णन करते हुए अपने मित्र को पत्र लिखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *