स्वयं को सरदार शहर निवासी ‘दिनकर’ मानते हुए शैक्षिक भ्रमण का वर्णन करते हुए अपने मित्र को पत्र लिखें।

हिंदी पत्र लेखन

मित्र को औपचारिक पत्र

 

दिनाँक : 2 मार्च 2024

 

प्रिय मित्र मानक,

तुम कैसे हो? आशा है कि तुम कुशलपूर्वक होंगे। मित्र, आज मैं तुम्हें हमारे विद्यालय द्वारा आयोजित हुई शैक्षिक भ्रमण के बारे में बताना चाहता हूँ।

मित्र, दो दिन पहले हमारे विद्यालय की तरफ से एक शैक्षिक भ्रमण आयोजित किया गया था। शैक्षिक भ्रमण के लिए हमें हमारे शहर में स्थित एक दवा कंपनी में ले जाया गया। वहाँ पर हमने दवा कंपनी बनने की पूरी प्रक्रिया देखी और समझी। किस तरह दवाओं का फार्मूला तैयार किया जाता है, किस तरह उन सभी दवाओं को तैयार करके उन्हें गोलियों में बदल जाता है? किस तरह उनकी पैकिंग की जाती है? इस सारी प्रक्रिया को हमने समझा।

हमने दवा कंपनी की रिसर्च यूनिट भी देखा। जहाँ पर निरंतर दवा संबंधी रिसर्च होती रहती हैं। यह शैक्षिक भ्रमण हमारे लिए विज्ञान की दृष्टि से उपयोगी शैक्षिक भ्रमण हुआ। इससे हमने दवा बनने की पूरी प्रक्रिया समझी। मैंने उस स्थल के कुछ फोटो भी अपने मोबाइल निकाले थे, जो मैं तुम्हें तुमसे मिलने पर दिखाऊंगा। जब तुम मुझे मिलोगे तो मैं तुम्हें विस्तार से सारी बातें समझाऊंगा ताकि तुम्हें भी कुछ उपयोगी जानकारी मिले। तुम्हारे विद्यालय में भी क्या ऐसे ही शैक्षिक भ्रमण हाल-फिलहाल में आयोजित किया गया था, या भविष्य में किया जाने वाला है, तो मुझे बताना। शेष बातें तुम्हे मिलने पर होगी।

तुम्हारा मित्र
दिनकर,
सरदार शहर


ये भी जानें…

‘जो किसी से न डरे’ अनेक शब्दों के लिए एक शब्द।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *