‘जो किसी से न डरे’ अनेक शब्दों के लिए एक शब्द।

‘ जो किसी से डर न सके’ अनेक शब्दों के लिए एक शब्द इस प्रकार हैं…

जो किसी से न डरे : निडर

‘जो किसी से ना डरे’ इस शब्द समूह के लिए एक शब्द ‘निडर’ होगा।

‘निडर’ अर्थात जिस किसी का भी डर ना हो जो बिना किसी डर के निश्चिंत भाव से रहे।

इसी से संबंधित एक शब्द समूह इस प्रकार है, जिसे किसी का भय ना हो।

‘जिस किसी का भय ना हो’ इस शब्द समूह के लिए एक शब्द होगा ‘निर्भय’

निर्भय और निडर दोनों का अर्थ एक ही है। निर्भय और निडर दोनों शब्द एक दूसरे के पर्यायवाची भी हैं।

इस प्रकार हम पाते हैं कि…

जो किसी से ना डरे : निडर

जिसे किसी का भय ना हो : निर्भय

और कुछ…

अनेक शब्दों के लिए एक शब्द हिंदी में एक शब्द समूह को किसी एक शब्द में समेटने की एक बेहद सुंदर विधि है। इसके माध्यम से एक पूरे शब्द समूह के अर्थ को किसी एक शब्द में ही समेट लिया जाता है, इसे लिखने और बोलने में लगने वाला  समय और लिखने में लगने वाले स्थान की भी बचत होती है और शब्द का प्रभाव भी अधिक हो जाता है।


ये भी जानें…

‘अपूर्व अनुभव’ पाठ में दूसरों की सहायता करने की प्रेरणा है। सिद्ध कीजिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *