कबीर की दृष्टि में ईश्वर एक है, इसके समर्थन में उन्होंने क्या तर्क दिए हैं?

कवि की दृष्टि में ईश्वर एक है और अपनी इस बात के समर्थन में कबीर ने अनेक तरह के तर्क दिए हैं, जो कि इस प्रकार हैं…

  • कबीर के अनुसार मानव शरीर पाँच तत्वों अग्नि, वायु, जल, पृथ्वी और आकाश से मिलकर बना है और यह पाँच तत्व हर जगह पाए जाते हैं, जो कि ईश्वर द्वारा बनाए गए हैं।
  • कबीर के अनुसार सब जगह एक ही पवन है, एक ही जल है।
  • कबीर कहते हैं कि सारा जगत एक ही ज्योति यानी प्रकाश से प्रकाशित है।
  • कबीर कहते हैं कि जिस तरह मिट्टी से अलग-अलग तरह के आकृति और आकार के बर्तन बनते हैं, उसी तरह सृष्टि की मिट्टी से ईश्वर ने अनेक तरह के मानवों को रचा है। इन सभी अलग-अलग रूप में एक ईश्वर का वास है।
  • कबीर के अनुसार दुनिया के जितने भी मानव हैं, उन सबको ईश्वर ने ही रचा है, इसलिए ईश्वर सबके लिए एक है, एक समान है।

इस तरह कबीर ने ईश्वर के एक होने के संबंध मे उपरोक्त तर्क दिए हैं।


Other question..

मानव शरीर का निर्माण किन पाँच तत्वों से हुआ है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *