अपनी मौसेरी बहन को यूनिवर्सिटी में प्रथम आने की बधाई देने के लिए हुई टेलीफ़ोन-वार्ता को संवाद रूप में लिखिए।

संवाद लेखन

मौसरी बहन के साथ टेलीफोन पर संवाद

 

राधा : (ट्रिन-ट्रिन , फोन की घंटी) हेल्लो, आप कौन बोल रहे हैं?

सीता : हेल्लो राधा, मैं शिमला से तुम्हारी मासी की बेटी बोल रही हूँ।

राधा : नमस्ते दीदी,  माफ करना मैंने आपको पहचाना नहीं था।

सीता : पहचानोगी कैसे इतने समय से हमारी बात ही नहीं हुई है। मैं कल ही चार साल बाद लंदन से आई हूँ और रात ही माँ ने मुझे बताया कि तुम यूनिवर्सिटी में प्रथम आई हो। ये सुनकर बहुत खुशी हुई। इसीलिए तुम्हे बधाई देने के लिए मैंने फोन किया। तुम्हारी इस उपलब्धि पर मेरी तरफ से तुम्हे ढेर सारी बधाई।

राधा : धन्यवाद ! दीदी।

सीता : अब तुमने आगे क्या करने का सोचा है?

राधा : अभी मैं और आगे पढ़ना चाहती हूँ और अपने देश के लिए कुछ करना चाहती हूँ।

सीता : मुझे बहुत खुशी हुई कि तुम अपने देश के बारे में सोचती हो।

राधा : दीदी, हमारी यूनिवर्सिटी ने मुझे स्वर्ण पदक देने का निर्णय लिया है। दो दिन बाद उसका समारोह है, अगर हो सके तो आप भी आने की कोशिश करना। मुझे अच्छा लगेगा।

सीता : हाँ–हाँ ज़रूर। यह तो मेरे लिए खुशी कि बात होगी।

राधा : मैं आपका इंतजार करूँगी। नमस्ते दीदी।

सीता : नमस्ते।


Related questions

अपनी प्रिय पुस्तक पर दो सहेलियों रानी और मीरा के बीच हुई बातचीत को संवाद रूप में लिखिए।

जन-धन योजना में बचत को बढ़ावा देने के लिए बैंक कर्मी तथा ग्रामीण के मध्य संवाद लिखिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *